मां की लाश को 6 साल घर में रखा, पड़ोसियों को भी नहीं लगी भनक, करता रहा ये काम

3 Min Read

कुछ घटनाएं ऐसी होती हैं, जो लोगों को एक बड़ा सदमा दे जाती हैं. वैसे तो हर इंसान का मरना तय होता है और लोग ये जानते भी हैं, लेकिन इसके बावजूद वो मोह-माया में पड़ जाते हैं और अपनों के जाने से इतना दुखी हो जाते हैं कि अपनी ही सुध-बुध खो बैठते हैं. हालांकि समय के साथ धीरे-धीरे लोग मौजूदा हालात में एडजस्ट हो जाते हैं और मरने वाले व्यक्ति की यादों के सहारे जीने लगते हैं. वैसे दुनिया में कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो मरे हुए लोगों के शरीर को पैसा कमाने का जरिया बना लेते हैं और ऐसी अजीबोगरीब हरकत कर देते हैं कि जानकर लोगों को यकीन ही नहीं होता. ऐसा ही एक मामला आजकल काफी चर्चा में है, जिसने लोगों के होश उड़ा दिए हैं.

मामला कुछ यूं है कि एक शख्स अपनी मरी हुई मां की लाश के साथ महीने नहीं बल्कि 6 साल से रहता आ रहा था. वह ऐसा क्यों कर रहा था, जब आप इसके पीछे की कहानी जानेंगे तो आपके लिए यकीन करना ही मुश्किल हो जाएगा. आपने ऐसे कुछ मामलों के बारे में सुना होगा कि लोग अपने करीबियों को अपने से दूर जाने नहीं देना चाहते, ऐसे में वो उसके शव के साथ महीनों या साल बिता देते हैं, पर ये मामला वैसा नहीं है. इसकी कहानी कुछ और ही है. मामला इटली का है.

डेली स्टार की रिपोर्ट के मुताबिक, शख्स की मां का नाम हेल्गा मारिया हेंगबर्थ (Helga Maria Hengbarth) था. एक दिन जब उसकी मौत हो गई तो उसके बेटे ने उसके शव को करीब 6 साल तक संभाल कर रखा और इसकी भनक पड़ोसियों तक को भी नहीं लगी. हालांकि पड़ोसियों ने पूछा कि उसकी मां कहां है, तो इसके जवाब में शख्स ने उन्हें बताया कि वो जर्मनी चली गई है, जहां उसका घर था. ऐसे में लोगों ने भी उसकी बातों पर यकीन कर लिया और कभी उसके घर में झांक कर भी नहीं देखा कि अंदर का नजारा कैसा है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, शख्स अपनी मर चुकी मां के नाम से इतने साल तक पेंशन उठाता रहा. उसने डेढ़ करोड़ रुपये से भी अधिक पेंशन उठाया था. इस मामले की सच्चाई तब सामने आई जब अधिकारियों को शक हुआ कि आखिर हेल्गा मारिया ने 6 साल से अपने हेल्थ कार्ड से कुछ क्लेम क्यों नहीं किया.

इसके बाद अधिकारी सीधे उसके घर पर आ धमके और अंदर का नजारा देख कर दंग रह गए. उन्होंने देखा कि बिस्तर पर एक पैक की हुई लाश पड़ी हुई थी, जिसकी शिनाख्त हेल्गा मारिया के रूप में हुई. ऑटोप्सी से पता चला कि उसकी मौत को 6 साल हो चुके थे, लेकिन उसका 60 साल का बेटा उसके नाम से लगातार पेंशन उठाए जा रहा था.

105
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *