विश्व पर्यावरण दिवस मनाने का उद्देश्य लोगों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता पैदा करना है

3 Min Read
डा. नम्रता आनंद
पटना :  हर साल पांच जून को विश्‍व पर्यावरण दिवस मनाया जाता है।‘विश्व पर्यावरण दिवस’ मनाने का मुख्य उद्देश्य दुनियाभर के लोगों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता फैलाना है। लोगों को पर्यावरण प्रदूषण, जलवायु परिवर्तन, ग्रीन हाउस के प्रभाव, ग्लोबल वार्मिंग, ब्लैक होल इफेक्ट आदि ज्वलंत मुद्दों और इनसे होने वाली विभिन्न समस्याओं के प्रति जागरूक करना है,साथ ही लोगों को इससे निपटने के लिए कदम उठाने के लिए भी प्रेरित किया जाता है।
विश्व पर्यावरण दिवस मनाने की शुरुआत 1972 में हुई थी। संयुक्त राष्ट्र संघ ने 5 जून 1972 को पहली बार पर्यावरण दिवस मनाया था। इसके बाद से हर साल दुनियाभर में पांच जून को विश्‍व पर्यावरण दिवस मनाया जाता है।विश्व पर्यावरण दिवस के लिए प्रतिवर्ष एक खास थीम होती है, जिसके अनुसार यह मनाया जाता है।इस बार की थीम प्लास्टिक प्रदूषण के समाधान पर आधारित है। दुनिया में लगातार प्रदूषण का स्‍तर बढ़ रहा है. इसी बढ़ते प्रदूषण के कारण प्रकृति पर खतरा बढ़ता जा रहा है. इसे रोकने के उद्देश्य से पर्यावरण दिवस मनाने की शुरुआत हुई, जिसे लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक किया जाए और प्रकृति को प्रदूषित होने से बचाने के लिए प्रेरित किया जा सके।आज के औद्योगीकरण के दौर में पेड़ों की अंधाधुंध कटाई चिंता का विषय बन गया है. इसके चलते दुनियाभर के इकोसिस्टम में तेजी से बदलाव देखने को मिल रहा है।पर्यावरण संरक्षण की चिंता विश्व पर्यावरण दिवस (05 जून) पर ही नहीं, हर पल करनी चाहिए। तभी भलाई है। मनुष्य समय रहते नहीं चेता तो प्रकृति एवं पर्यावरण संरक्षण में देरी मानवता के सुरक्षित भविष्य के लिए बड़ी चुनौती बन सकती है। उन्होंने कहा, शुद्ध पर्यावरण सभी की जरूरत है, लेकिन यह तभी संभव है जबकि सभी लोग इसमें अपना सहयोग करें। पर्यावरण की शुद्धता के लिए बढ़ते प्रदूषण पर अंकुश लगाना समय की जरूरत है। प्रदूषण के बढ़ते दुष्प्रभाव को कंट्रोल करने में भी सभी के सहयोग की जरूरत है, प्रदूषण कम होगा तो पर्यावरण भी शुद्ध होगा, जिसका समाज के सभी लोगों को फायदा मिलेगा।पेड़ पौधे जीवन के आधार हैं। हर व्यक्ति को पौधारोपण करना चाहिए। आने वाली पीढ़ियों को स्वच्छ एवं स्वस्थ वातावरण देने के लिए पौधारोपण हर हाल में करना होगा।आधुनिक जीवन शैली में परिवर्तन कर पर्यावरण के प्रति सजग एवं जागरूक समाज के निर्माण की आवश्यकता है। आज हमारे जीवन मे पेड़ों का बहुत महत्व है। पूरा विश्व प्रदूषण की चपेट में आ रहा है। ऐसे में हमें पर्यावरण की रक्षा के लिए प्रत्येक व्यक्ति को एक पेड़ जरूर लगाने चाहिए। आज हम पेड़ो को कटता हुआ देख रहे हैं। जो पूरे विश्व मानव के लिए खतरे की बात है। पर्यावरण संरक्षण बहुत जरुरी है।
18
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *