श्री विष्णुपद गया जी सम्मान से मेयर पूर्व उप मेयर को श्री विष्णुपद प्रबंधन समिति द्वारा

5 Min Read
गया। राजकीय पितृपक्ष मेला, शक्ति उपासना का महापर्व दुर्गा पूजा दीपावली एवं लोक आस्था का महान पर्व छठ पूजा के अवसर पर गया नगर निगम द्वारा शहर में प्रकाश व्यवस्था एवं बेहतर सफाई व्यवस्था सुचारू रूप से बनाए रखने में प्रशंसनीय योगदान के लिए रविवार को श्री विष्णुपद प्रबंधकारिणी समिति चौदह सईयां गया पाल समाज के अध्यक्ष शंभू लाल विट्ठल, सचिव गजाधर लाल पाठक,कोषाध्यक्ष सुनील लाल हल, सदस्य मणिलाल बारिक, प्रवीण पाठक के द्वारा मंदिर परिसर स्थित कार्यालय कक्ष में महापौर वीरेंद्र कुमार उर्फ गणेश पासवान एवं पूर्व उपमहापौर सह नगर निगम में सशक्त स्थाई समिति के सदस्य अखौरी ओंकार नाथ उर्फ मोहन श्रीवास्तव को *”श्री विष्णुपद गया जी सम्मान”* प्रदान किया गया है। उन्हें पुष्प हार एवं तिलक,अंग वस्त्र,प्रशस्ति पत्र भेंट कर सारस्वत पूर्व सम्मानित करते हुए उनके कार्यों की भूरि- भूरि प्रशंसा की है। इस मौके पर समिति के अध्यक्ष शंभू लाल विट्ठल ने कहा की मेला के दौरान प्रकाश व्यवस्था, साफ सफाई एवं तीर्थयात्रियों की सुख सुविधाओं का ख्याल नगर निगम की ओर से रखा गया। पितृपक्ष मेले में बेहतर व्यवस्था से तीर्थ यात्री संतुष्ट होकर लौटे हैं। इतने बड़े मेले को संपन्न करना नगर निगम के लिए एक चुनौती बनी हुई थी। पंडा समाज भी नगर प्रशासन एवं जनप्रतिनिधियों के साथ कदम से कदम मिलाकर मेला को सुचारू रूप से संपन्न कराने में सहयोग किया है। जिसका श्रेय महापौर गणेश पासवान, उपमहापौर चिंता देवी एवं उप महापौर सह सशक्त स्थाई समिति के सदस्य मोहन श्रीवास्तव को जाता है को जाता है। जिन्होंने कुशलतापूर्वक मेले का आयोजन कर पूरे देश में गया जी की बेहतर छवि बनी है। उन्होंने कहा कि प्रतिवर्ष पितृपक्ष मेले के दौरान तीर्थ यात्रियों की संख्या में लगातार वृद्धि देखी जा रही है, उसके मुताबिक सुविधाएं बढ़ाने की जरूरत है। देश विदेश से लाखों की संख्या में तीर्थयात्री आते हैं उनके मन में गया जी के प्रति सच्ची श्रद्धा और समर्पण लेकर आते हैं। मूलभूत सुविधाओं की कमी से उन्हें जूझना भी पड़ता है। आगामी वर्ष मेले की तैयारी के पूर्व तीर्थ यात्रियों को और अधिक सुविधाएं प्रदान किया जाए।
 पूर्व उप महापौर मोहन श्रीवास्तव ने कहा कि पितृपक्ष मेला 2023 को सफलतापूर्वक संपन्न कराने में गयापाल समाज के साथ शहरवासियों का भी योगदान रहा है। देवतुल्य श्रद्धालुओं को गया नगर निगम अतिथि देवो भवः के तर्ज पर तीर्थ यात्रियों को हर संभव बेहतर सुविधाएं जैसे शुद्ध पेयजल, प्रकाश की उचित व्यवस्था, सहायता शिविर, शौचालय, पिंडवेदियों एवं घाटों की बेहतर साफ सफाई, पिंड सामग्रियों का निस्तारण जैसे कई जनहित के मुद्दों को मुहैया करने में तत्पर रहा है। तीर्थ यात्री गया जी के प्रति एक अच्छा फीडबैक लेकर लौटे हैं। सभी के सहयोग से पितृपक्ष मेला सफलतापूर्वक संपन्न हुआ है।  गया जी का विष्णु पद विश्व के सभी वैष्णव तीर्थों में से एक विशिष्ट स्थान रखता है। सालों भर पर्यटकों और तीर्थ यात्रियों का आवागमन लगा रहता है, इसके लिए नगर निगम ने हमारे प्रयास से चांद चौरा से विष्णुपद होते हुए श्मशान घाट तक सड़क के दोनों किनारे एलईडी लाइट लगाया गया है, जो रात में पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र रहेगा। इससे विष्णुपद इलाके की खूबसूरती बढ़ेगी। साथ ही चांद चौरा के पास मोक्ष धाम द्वार के नाम से स्टील का आकर्षक प्रवेश द्वार बन जाएगा। इंदौर की महारानी अहिल्याबाई होलकर की स्मृति में विष्णु पद मार्ग का नाम की घोषणा की जाएगी। आने वाले वित्तीय वर्ष में गया शहर के प्रमुख चौक चौराहा और गोलंबरों को महानगर के तर्ज पर विकसित करने का प्रयास चल रहा है। इसके साथ ही जयप्रकाश झरना व गांधी चौक जैसे कई महापुरुषों के प्रतिमा स्थल पर 100 फीट ऊंचा तिरंगा झंडा लगाया जाएगा। इस दौरान विष्णुपद पार्क का निरीक्षण कर इसे विकसित बनाने एवं सौंदर्यीकरण करने के लिए पंडा समाज को हर संभव सहायता उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया है। इस मौके पर अध्यक्ष शंभू लाल विट्ठल, सचिव गजाधर लाल पाठक,सदस्य मणिलाल बारिक मुन्नालाल महतो प्रवीण पाठक के अलावे पंडा समाज के लोग उपस्थित थे।
16
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *