शर्मनाक : सौतेली मां ने 20 हजार रुपये में बेच दी बेटी, खरीदार ने की अमानवीयता की हद पार

3 Min Read

उत्तर प्रदेश के बरेली जनपद में दिल को झकझोर देने वाला मामला सामने आया है। एक युवती को उसकी सौतेली मां ने 20 हजार रुपये में युवक के हाथों बेच दिया। खरीदार युवक नवाबगंज का रहने वाला है, जबकि युवती कुशीनगर की है।

कुशीनगर की युवती को उसकी सौतेली मां ने 20 हजार रुपये में बेच दिया। बिचौलिये के जरिये युवती को खरीदने के बाद बरेली के नवाबगंज निवासी युवक ने मंदिर में उससे शादी कर ली और उसे पत्नी की तरह रखने लगा। आरोप है वहां उसे कमरे में भूखा-प्यासा बंदकर रखा जाता था। मारपीट भी की जाती थी।

बुधवार देर रात युवती जैसे-तैसे थाने पहुंची। फोन कर उसने प्रेमी को सूचना दी। सूचना पर गुरुवार को प्रेमी नवाबगंज थाने पहुंच गया। युवती प्रेमी के साथ जाने की जिद पर अड़ी है। पुलिस ने युवती के परिजनों को बुलाया है।

युवती ने बताया कि उसकी मां की काफी समय पहले मौत हो गई थी। इसके बाद पिता ने दूसरी शादी कर ली। युवती का पड़ोसी युवक से प्रेम-प्रसंग था। एक महीने पहले सौतेली मां ने घर के पास रहने वाले बिचौलिये के जरिये नवाबगंज के एक युवक के हाथों 20 हजार रुपये में युवती का सौदा करा दिया।

विरोध के बावजूद जबरन मंदिर में जयमाला डलवाने के बाद उसे युवक के साथ भेज दिया गया। युवक उसे दिनभर कमरे में बंदकर रखता था। उसे भूखा रखा जाता था। विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की जाती। बुधवार रात मौका देखकर युवती घर से फरार हो गई। फोन कर उसने प्रेमी को जानकारी दी।

इसके बाद वह थाने पहुंच गई। युवती को खोजते हुए उसके ससुराली भी थाने पहुंच गए। प्रेमी भी पहुंच गया। युवती ने पुलिस को बताया कि अगर वह नहीं भागती तो उसके साथ अनहोनी भी हो सकती थी। थाने में वह प्रेमी के साथ जाने की जिद पर अड़ गई।

युवती ने पुलिसकर्मियों को बताया कि वह तीन दिन से भूखी है। इस पर पुलिसकर्मियों ने पहले उसे भोजन कराया। पुलिस ने युवती की बहन को थाने बुलवाया है। उसे उसी के सुपुर्द करने की तैयारी है। दूसरी ओर युवती की जिद को देखते हुए ससुराली उसे थाने पर छोड़कर घर चले गए।

नवाबगंज के कोतवाल राजीव कुमार सिंह ने बताया कि युवती को बहन को बुलाया गया है। उच्चाधिकारियों को भी मामले से अवगत कराया गया है। उनके निर्देश पर मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

17

Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *