झारखंड में 5 महीने बाद हेमंत सोरेन फिर बनेंगे मुख्यमंत्री

Live News 24x7
4 Min Read
रांची: झारखंड में तेजी से बनते-बिगड़ते सियासी समीकरण के बीच पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को इंडिया अलायंस विधायक दल का नेता चुन लिया गया। बैठक में उपस्थित गठबंधन के सभी विधायकों ने एक मत से हेमंत सोरेन को अपना नेता चुना। इससे पहले बदली हुई राजनीतिक परिस्थितियों के बीच विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने पहले अपने इस्तीफे की पेशकश की उसके बाद चंपाई सोरेन ने ही विधायक दल के नेता और राज्य के अगले मुख्यमंत्री के रूप में हेमंत सोरेन के नाम का प्रस्ताव रखा, जिसे सर्वसम्मति से पास कर दिया है। वहीं चंपाई सोरेन समन्वय समिति के चेयरमैन होंगे। हालांकि अभी तक औपचारिक रूप से इंडिया अलायंस की ओर से नेतृत्व परिवर्तन को लेकर औपचारिक घोषणा नहीं की गई है।
साहेबगंज जिले के बरहेट विधानसभा के विधायक हेमंत सोरेन झारखंड में तीसरी बार मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे। हेमंत सोरेन पहली बार 13 जुलाई 2013 को मुख्यमंत्री बने थे। लेकिन वर्ष 2014 के विधानसभा में बीजेपी को बहुमत मिल जाने के कारण उन्हें अपने पद से त्यागपत्र दे देना पड़ा था। इसके बाद 2019 के विधानसभा चुनाव में हेमंत सोरेन के नेतृत्व में महागठबंधन को बहुमत मिली।
बहुमत मिलने के बाद 29 दिसंबर 2019 को हेमंत सोरेन ने दूसरी बार सीएम के रूप में शपथ ली। लेकिन 31 जनवरी को ईडी ने लैंड माइंस मामले में उन्हें गिरफ्तार कर लिया। जिसके बाद हेमंत सोरेन ने अपने पद से त्यागपत्र दे दिया। हेमंत सोरेन के त्यागपत्र देने के बाद 2 फरवरी 2024 को चंपाई सोरेन ने सीएम के रूप में शपथ ली। इस तरह से अब तक चंपाई सोरेन 151 दिन का कार्यकाल पूरा कर चुके हैं।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इंडिया अलायंस की बैठक में हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन के नाम पर भी सहमति बनाने की कोशिश हुई। बताया जा रहा है कि पार्टी के कुछ नेता चाहते थे कि हेमंत सोरेन के खिलाफ चल रहे मामलों को देखते हुए कल्पना सोरेन को ही मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी सौंप दी जाए, लेकिन चंपाई सोरेन ही सलाह दी दी कि यदि नेतृत्व परिवर्तन करना ही है, तो हेमंत सोरेन ही फिर से सीएम बने, इसके बाद सभी विधायकों ने हेमंत सोरेन के नाम पर सहमति जताई।
इंडिया अलायंस विधायक दल की बैठक के बाद शाम में सभी विधायक और वरिष्ठ नेता राजभवन जाएंगे। बताया गया है कि राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन अभी रांची से बाहर हैं और वो शाम छह बजे राजधानी वापस लौट रहे हैं। शाम साढ़े छह बजे तक उनके राजभवन पहुंचने की संभावना है, जिसके बाद कांग्रेस,जेएमएम और आरजेडी विधायक राजभवन जाएंगे। शाम साढ़े छह बजे तक उनके राजभवन पहुंचने की संभावना है, जिसके बाद कांग्रेस,जेएमएम और आरजेडी विधायक राजभवन जाएंगे।
इधर, बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने कहा कि चंपाई सोरेन युग अब समाप्त हो गया है। निशिकांत दुबे ने ट्वीट कर कहा कि परिवारवादी पार्टी में परिवार के बाहर के लोगों का कोई राजनीतिक भविष्य नहीं है। काश, आंदोलनकारी मुख्यमंत्री बिरसा भगवान से प्रेरित होकर भ्रष्टाचारी हेमंत सोरेन के खिलाफ खड़े हो पाते?
60
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *