बिहार में प्रेम विवाह करना लड़की को पड़ गया मंहगा, शादी के 20 दिन बाद पति हुआ फरार

Live News 24x7
3 Min Read

 बिहार के मुजफ्फरपुर में लव मैरिज के 20 दिन बाद ही पति फरार हो गया. पत्नी उसको खोजती रह गई लेकिन, वह नहीं मिला. जब कमरे के अंदर रखे अलमीरा को देखा तो उसके होश उड़ गए. शादी के प्रमाण पत्र समेत अन्य कागजात गायब थे. तब उसे धोखे का अहसास हुआ. मामला जिले के सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के एक मोहल्ले की है.

मामले को लेकर पीड़िता ने महिला थाने में पति, सास और ननद के खिलाफ आवेदन सौंपा है. महिला थाने की पुलिस ने आवेदन के आधार पर मामले की जांच शुरू कर दी है. पीड़िता (24 वर्ष) ने पुलिस को बताया की वह सिकंदरपुर की रहने वाली है. आरोपी पति (32 वर्ष) नगर थाना क्षेत्र का रहने वाला है.

पीड़िता ने बताया की दो साल पहले युवक से मुलाकात हुई. दोनों के बीच दोस्ती हुई. दोनों एक दूसरे को काफी वक्त देने लगे. एक दूसरे से मोबाइल पर चैट करने लगे. धीरे धीरे मोबाइल पर दोनों की बातचीत शुरू हो गई. इसके बाद कब दोस्ती प्यार में बदल गई, पता ही नहीं चला. जब दोनों के बीच प्यार परवान चढ़ा तो दोनों एक दूसरे से चोरी छिपे मिलने लगे.

इसी बीच आरोपी ने उसे शादी का झांसा दिया. इसके बाद अलग-अलग जगह पर ले जाकर शारीरिक संबध बनाए. कई बार कोल्ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर संबंध बनाया. वह गर्भवती हो गई. इसपर उसने शादी का दबाव बनाया. उसके साथ आरोपी प्रेमी ने शहर के रानी सती मंदिर में विवाह किया. फिर, पांच मार्च को मुजफ्फरपुर के रजिस्ट्रार कार्यालय में शादी के प्रमाण पत्र के लिए आवेदन सौंप दिया. इसके बाद बच्चे का गर्भपात कराया.

शादी का प्रमाण पत्र मिलने के बाद युवती ने प्रेमी को घर ले जाने की बात कही. इसपर आरोपी 30 अप्रैल को उसे अपने घर ले गया. जहां ”मेरी सास और ननद ने गाली गलौज की. गले से मंगलसूत्र, जेवर और सूटकेस रख लिया. फिर, घर से निकाल दिया. धमकी दी की 20 लाख कैश और चार चक्का कार देने पर ही घर में जगह मिलेगी. झूठे केस में फंसवाने की धमकी दी.” इधर, महिला थाने की पुलिस का कहना है की ”मामले की जांच की जा रही है. दूसरे पक्ष की भी इस मामले में प्रतिक्रिया जांच के दौरान ली जाएगी.”

178
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *