20 हजार रुपये के लिए कल्युगी बेटे ने अपनी माँ और भाई को उतारा मौत के घाट

Live News 24x7
3 Min Read

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां एक युवक ने अपनी मां और छोटे भाई की हत्या कर दी. आरोपी ने मां से 20 हजार रुपये मांगे थे, जो कि मां ने देने के लिए इनकार कर दिया था.इसके बाद गुस्साए बेटे ने अपनी मां को मारने की सोची. फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और आगे की जांच जारी है.

घटना गुलाब वाटिका कॉलोनी लोनी की है, जो कि 7 मई मंगलवार रात घटी है. यहां यशोदा देवी (उम्र 65 साल) अपने दो बेटों के साथ रहती थीं. यशोदा देवी का छोटा बेटा दिव्यांग था. जानकारी के मुताबिक, बड़े बेटे ने वारदात को अंजाम दिया है.बड़े बेटे का नाम धर्मेंद्र है जबकि छोटे बेटे का नाम बिजेंद्र था. मां यशोदा देवी और छोटे बेटे बिजेंद्र की घर में सोते समय हत्या की गई थी. वहीं, जानकारी मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंच गई.

इस दौरान धर्मेंद्र ने पुलिस को लूट के लिए हत्या का मामला बताया. इसके बाद जानकारी मिलते ही पुलिस की टीम जांच में जुट गई लेकिन शाम होते होते पुलिस के सामने सारी सच्चाई आ गई. पुलिस ने धर्मेंद्र से सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना सारा जुर्म कबूल लिया. पुलिस के मुताबिक,धर्मेंद्र ने अपनी मां से 20 हजार रुपये मांगे थे. धर्मेंद्र पर पहले ही 1 लाख रुपये का कर्जा था, कर्जदार उसे पैसे देने के लिए तकादा कर रहे थे, लेकिन जब मां से पैसे नहीं मिले तो गुस्साए धर्मेंद्र ने अपनी मां को मारने को सोची.

मंगलवार की रात जब मां सो रही थी तो आरोपी ने चारपाई के पाए से पीट-पीटकर मां की हत्या कर दी. इस दौरान भाई की नींद खुली तो आरोपी ने उसे भी मार दिया. आरोपी धर्मेंद्र को लगता था कि मां उसको संम्पत्ति से बेदखल कर सकती है. बीते शनिवार से वह यह सोच रहा था कि हत्या करके वह कैसे खुद को बचाए. इसके बाद उसने वारदात को लूट के लिए हत्या का मामले बताने को सोची और ऐसे वारदात को अंजाम दिया. पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल किए चारपाई के पाए को बरामद कर लिया है. इस पर खून के निशान पाए गए हैं. पुलिस फिलहाल मामले में आगे की जांच में जुट गई है और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

101
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *