सलमान के घर फायरिंग करने वाले का बिहार कनेक्शन : आरोपी गुजरात से गिरफ्तार

Live News 24x7
4 Min Read

मुंबई क्राइम ब्रांच ने बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान के आवास पर फायरिंग के मामले में बड़ी सफलता हासिल की है. पुलिस ने इस घटना में शामिल दो आरोपियों को सोमवार को गुजरात के भुज से गिरफ्तार कर लिया है. आरोपियों की पहचान बिहार के पश्चिम चंपारण जिले के मसिही के विक्की साहेब गुप्ता (24) और सागर श्रीजोगेंद्र पाल (21) के रूप में हुई है.

जानकारी के मुताबिक रविवार को मुंबई के बांद्रा में सलमान खान के घर के बाहर हुई फायरिंग की घटना में शामिल दोनों आरोपियों को पुलिस ने गुजरात के भुज जिले में गिरफ्तार कर लिया है और उन्हें आज सुबह मुंबई लाया जाएगा. बता दें कि टीवी 9 भारतवर्ष ने कल ही इसकी जानकारी दी थी कि आरोपी वसई हाईवे यानी मुंबई अहमदाबाद हाईवे की दिशा में फरार हुए थे. वसई हाईवे का एड्रेस उन्होंने ऑटो वाले से पूछा था.

मुंबई क्राइम ब्रांच सीसीटीवी फुटेज के जरिए आरोपियों को लगतार ट्रेस कर रही थी. साथ ही साइबर टीम से डंप डाटा भी निकाला गया था.क्राइम ब्रांच के अधिकारी ने इस बात की पुष्टि की है कि दोनों आरोपियों के भुज में होने की स्पेसिफिक जानकारी मिली थी.इसके बाद भुज के स्थानीय लोकल क्राइम ब्रांच को इसकी जानकारी दी गई क्योंकि शक था कि आरोपियों को पकड़ने गई पुलिस पर फायरिंग हो सकती है.

आरोपी पेशेवर अपराधी हैं इसलिए पुलिस ने एहतियात बरता और स्थानीय पुलिस की टीम को साथ लिया. क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर की अगुवाई में एक टीम भुज पहुंची थी. बता दें कि आरोपी विक्की साहेब गुप्ता मसीही थाना गोहना डी.टी. नरकटियागज जिला पश्चिम चंपानेर बिहार का रहने वाला है. जबकि दूसरा आरोपी सागर श्रीजोगेंद्र पाल भी उसी गांव का है.

पुलिस टीम ने आरोपियों को एक मंदिर परिसर से गिरफ्तार किया है. क्राइम ब्रांच के टॉप अधिकारी ने इसकी पुष्टि की है. हालांकि मंदिर में कैसे और क्यों गए थे इसका खुलासा नही हुआ है.कागजी कार्यवाही जारी है और आज सुबह 9 बजे के बाद आरोपियों को कभी भी किसी भी वक्त मुंबई लाया जा सकता है. वहीं क्राइम ब्रांच चीफ ने इस बात को इंकार नहीं किया है की लॉरेंस बिश्नोई गैंग की भूमिका है या नही है.उनका कहना है पेपर वर्क के बाद मुंबई लाने पर हर एंगल को खंगाला जायेगा.

दरअसल रविवार सुबह करीब 5 बजे बाइक सवार दो लोगों ने बांद्रा के गैलेक्सी अपार्टमेंट के बाहर चार राउंड फायरिंग की और मौके से भाग गए थे. पुलिस ने बताया था कि जब फायरिंग हुई तब सलमान खान अपने घर पर मौजूद थे. घटना में कोई घायल या मरा नहीं है.

अधिकारियों ने पाया कि गोलीबारी के बाद आरोपियों ने अपनी बाइक एक चर्च के पास छोड़ दी थी, कुछ दूर पैदल चले और एक ऑटोरिक्शा लेकर बांद्रा रेलवे स्टेशन पहुंचे. फिर वे सांताक्रूज़ स्टेशन के लिए एक ट्रेन में चढ़ गए, और आगे जाने के लिए एक और ऑटो-रिक्शा किराए पर लिया. लॉरेंस बिश्नोई के भाई अनमोल बिश्नोई ने सोशल मीडिया पोस्ट में इस घटना की जिम्मेदारी ली थी.

जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और वांटेड गैंगस्टर गोल्डी बरार कई बार सलमान खान को मारने का ऐलान कर चुका है. सूत्रों के मुताबिक, बिश्नोई और बरार ने अभिनेता को मारने के लिए अपने शूटर मुंबई भेजे थे. लॉरेंस बिश्नोई का गिरोह कथित तौर पर 1998 के काले हिरण शिकार मामले के कारण सलमान खान को निशाना बना रहा है. बिश्नोई समुदाय में काले हिरणों को पवित्र माना जाता है.

150
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *