बाबा साहब के सपनों को साकार करते हुए नए भारत के निर्माण में अपना योगदान सुनिश्चित करें : विभागाध्यक्ष

Live News 24x7
2 Min Read
गया। गया कॉलेज, गया में  प्राचार्य डा सतीश सिंह चंद्र के दिशानिर्देश पर भारत रत्न बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के  जन्म जयंती के अवसर पर प्रशासकीय भवन के प्रांगण में स्थित उनकी आदमकद प्रतिमा पर शिक्षकों, कर्मचारियों एवं विद्यार्थियों की ओर से माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किए गए  हैं। इस अवसर पर गया कॉलेज, गया के उप प्राचार्य सह बायोटेक्नोलॉजी विभागाध्यक्ष डॉ विनोद कुमार सिंह ने कहा कि बाबा साहब बचपन से ही विलक्षण एवं बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। उनका जन्म 14 अप्रैल 1891 को मध्यप्रदेश के महू में हुआ था। राजनीति विज्ञान एवं अर्थशास्त्र में स्नातक होने के साथ-साथ उच्च शिक्षा के लिए बाबा साहब ने विदेश की यात्रा की और स्वदेश वापस लौट कर उन्होंने भारतीय राजनीति में भी अपनी सक्रियता दिखाएं है। संविधान सभा में सम्मिलित होने के उपरांत डॉक्टर अंबेडकर को संविधान के प्रारूप समिति का अध्यक्ष भी बनाया गया है। उन्होंने कहा कि बाबा साहब के विचार आज भी प्रासंगिक है। बाबा साहब किसी भी जाति धर्म और संप्रदाय के बंधनों से ऊपर थे । देश के युवाओं से मैं अपील करता हूं कि वे बाबा साहब के सपनों को साकार करते हुए नए भारत के निर्माण में अपना योगदान सुनिश्चित करें । इस बात की जानकारी देते हुए शिक्षा विभाग के अध्यक्ष डा० धनंजय धीरज ने बताया कि मौके पर मनोविज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ रामदेव प्रसाद, बरसर आदर्श गुप्ता, महाविद्यालय के प्रधान लिपिक एवं कर्मचारी संघ के सचिव संतोष कुमार सिंह, छात्र प्रतिनिधि सूरज सिंह, विनायक कुमार, हर्ष कुमार कर्मचारी  नीरज कुमार, प्रकाश राज सहित  गुरारू और परैया के प्रखंड विकास पधाधिकारी साथ साथ अन्य शिक्षकेतर कर्मचारी एवं विभिन्न पाठ्यक्रमों में नामांकित विद्यार्थी उपस्थित थे।
47
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *