बीके डॉक्टर अंजु वर्मा के तृतीय पुण्य स्मृति दिवस पर “अचानक और एवरेडी” विषय पर सेमिनार आयोजित

2 Min Read
  • भारत की भूमि पर परमात्मा का अवतरण अचानक हुआ और पतित दुनिया को संपूर्ण पवित्र बनाकर वे  अचानक चले जाएंगे-वीके विभा
अशोक वर्मा
मोतिहारी : ब्रह्माकुमारी पंचमंदिर  सेवा केंद्र द्वारा नगर के बनिया पट्टी केंद्र के  क्लास हाल मे  आयोजित “अचानक और एवररेडी” विषयक सेमिनार को संबोधित करते हुये सेवाकेंद प्रभारी बीके वीभा ने कहा कि बीके डा० अंजू वर्मा एक तपस्वी बहन थी।तनमन और धन से उन्होंने वर्षो सेवा की, वे नियमित मुरली वर्ग मे रहती थी।ड्रामा अनुसार  बाबा उन्हे अगले महत्वपूर्ण पार्ट पर बुला लिया।उन्होंने विषय पर बोलते हुए कहा कि अब अचानक का दृश्य सभी देख रहे है।प्रत्यक्षता का दौर आरंभ हो गया है इसलिए संपूर्णता को जल्द से जल्द प्राप्त कर सतयुगी पार्ट मे जाने के लिय हर पल एवरेडी रहना है।
बीके अशोक वर्मा ने कहा कि डा० अंजू वर्मा ने पतौरा मे बीके पाठशाला खोल दर्जनो भाई बहनो के जीवन को तनाव मुक्त कर खुशहाल किया है।डा० आर एन सिंह ने कहा कि डा० वर्मा ने नई दुनिया निर्माण पर कई आश्चर्य जनक बाते बताई थी जो आज प्रत्यक्ष दिख रही है।संबोधित करने वालो मे प्राचार्य बीके शैलेंद्र सिन्हा, बीके पूनम,बीके स्वेता,बीके बंशीधर, बीके अनिता,बीकेसुनिता,बीके सारिका,बीके विनोद आदि थे।सभी ने डा० वर्मा के कृतित्व ,तपस्या, व्यवहारिकता एवं सेवा पर विस्तार से चर्चा की।
कार्यक्रम की शुरुआत योग भठठी से हुई फिर डा० बीके वर्मा के निमित्त बाबा को भोग स्वीकार कराया गया।सभी ने बीके डा० वर्मा के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उनके समान पुरूषार्थ करने का संकल्प लिया।
12
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *