संयुक्त संगठन वैशाली की जिले के सर्वांगीण विकास में भूमिका अहम

3 Min Read
वैशाली। जिले के सुप्रामेंटल फाउंडेशन के मुख्यालय में संयुक्त संगठन वैशाली की तीसरी बैठक आयोजित की गई। विदित हो कि जिले में पिरामल फाउण्डेशन के भारत कॉलेबोरेटिव मुहिम के तहत जिले में गैर सरकारी संस्थाओं के साथ एक संयुक्त संगठन का फोरम गठन किया गया है। इस फोरम में जिले में कार्यरत अग्रणी संस्था शामिल है जो विगत कई वर्षों से समाज के विकास में सहयोग दे रहें हैं।
बैठक में पिरामल फाउण्डेशन के जिला कार्यक्रम प्रबन्धक कुमार अभिषेक के द्वारा मीडिया को संबोधित करते हुए यह भी बताया गया की यह संगठन एक पहल है जिसके अंर्तगत हम सभी संस्था साथ मिलकर जिले के सर्वांगीण विकास के लिए कार्य करेंगे एवम जिला प्रशासन का भी सहयोग करेंगे ताकि सरकार द्वारा चल रही सभी योजनाओं का अंतिम व्यक्ति भी लाभ उठा सके। इस संगठन में शामिल सभी संस्था के लोग भी एक दुसरे की मदद करेंगे ताकि हर एक संस्था एक सशक्त संस्था बन सके।
आज की बैठक में सर्वसम्मति से संयुक्त संगठन वैशाली का अध्यक्ष समता ग्रामीण विकास संस्था के सचिव रघुपति जी को चुना गया है एवम इसके कोर कमिटी में चार सदस्य भी होंगे। आज की बैठक में यह भी निर्णय लिया गया है की आने वाले समय में अभी इस संगठन से जुड़े सभी संस्था अपने अपने भोगौलिक क्षेत्र में बाल श्रम एवम बाल विवाह विषय पर आम जन की जागरूकता करेंगे एवम इस विषय पर चल रहें सभी योजनाओं को भी घर घर पहुंचाएंगे।
बैठक में पीरामल के प्रतिनिधी के द्वारा यह भी बताया गया की इसी तरह जिले में छह चैनल – मीडिया, एसएचजी, पीआरआई, वॉलंटियर, फेथ बेस लीडर के साथ भी फोरम बनाया जाएगा ताकि समाज के हर वर्ग के लोग मिलकर जिला के सर्वांगीण विकास में योगदान दें।
आज के बैठक में सीता सामाजिक सेवा संस्थान, वैशाली समाज कल्याण, जनहित संस्था, भारद्वाज फाउंडेशन, औलिया आध्यात्मिक संस्थान, ग्रामीण स्वास्थ्य चिकित्सा संस्थान, सामाजिक सरोकार से वैशाली जिले में मुख्य भूमिका निभाने वाले राजेश कुमार, मनोज कुमार, राम कृष्ण, भारद्वाज, बेबी कुमारी, पीरामल के दिव्या भारद्वाज, केरला की रहने वाली गोपिका जो वैशाली जिले में गांधी फेलोशिप कर रही है इन सबों ने अपनी बातों को रखा l
कार्यक्रम के समापन में अध्यक्ष रघुपती जी के द्वारा सभी संस्था को धन्यवाद ज्ञापित किया गया एवम कहा गया कि निश्चित तौर पे ये पहल जिले के विकास के लिए मिल का पत्थर साबित होगा।
8
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *