सर्वजन दवा सेवन कर फुटपाथ  दुकानदार फाइलेरिया बीमारी से हुए सुरक्षित

3 Min Read
  • ऑटो रिक्शा चालकों, ट्रैफिक पुलिस व अन्य नागरिकों को भी खिलाई गईं डीईसी व अल्बेंडाजोल की गोली
  • फाइलेरिया होने पर इलाज सम्भव नहीं, अतः दवा सेवन जरूरी
मोतिहारी : शहर के मोतिझील फुटपाथ व्यवसायी संघ के दुकानदार एवं गाँधी चौक स्थित रिक्शा स्टैंड में ऑटो रिक्शा चालकों, ट्रैफिक पुलिस के जवानों सहित 300 से अधिक लोगों को आशा रितु कुमारी, तारा सिन्हा के साथ दयानिधि फाइलेरिया पेशेंट नेटवर्क प्लेटफार्म के सदस्य सिमरन सिंह के सहयोग से हाथीपांव के बारे में जागरूक करते हुए सर्वजन दवा का सेवन कराया गया। मौके पर सिमरन सिंह ने कहा की मुझे 20 वर्षो से फाइलेरिया है, इससे बचने के लिए मैंने कई जगह इलाज कराया परन्तु बीमारी ठीक नहीं हुई, जब मुझे जानकारी हुआ कि यह ठीक होने वाली बीमारी नहीं है, तब मैं लोगों को इस बीमारी से बचाव के लिए फाइलेरिया मुक्त कार्यक्रम के तहत लोगों को सर्वजन दवा सेवन हेतु जागरूक कर रहीं हूं,‌ताकि जिले के लोग इस बीमारी से सुरक्षित हो सकें। वहीं मोतिझील फुटपाथ विक्रेता संघ के सचिव नन्दलाल ने कहा की हाथीपांव बहुत ही गंभीर बीमारी है इससे बचाव को स्वास्थ्य विभाग द्वारा बूथ लगाया गया है ताकि हमसब मछड़ जनित इस बीमारी से बच सकें। उन्होंने एवं कोषाध्यक्ष राजा जायसवाल ने दवा खाकर दुकानदार लोगों को दवा सेवन हेतु प्रेरित किया।
–  फाइलेरिया होने पर इलाज सम्भव नहीं, अतः दवा सेवन जरूरी:
डीभीडीसीओ शरत चंद्र शर्मा धर्मेंद्र कुमार ने जानकारी देते हुए कहा की व्यक्ति को एक बार (हाथीपांव)
फाइलेरिया होने पर इसका इलाज सम्भव नहीं, अतः ज़ब सरकार सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम चलाए तो दवा का सेवन अवश्य करें हाथीपांव से बचाव को इसका सेवन जरूरी है।वहीं भीडीसीओ धर्मेंद्र कुमार ने बताया की मादा क्यूलेक्स मच्छर के काटने से फाइलेरिया होता है जिसके लक्षण शुरू में स्पष्ट रूप से दिखाई नहीं देते। इसके लक्षण आने में कभी कभी सालों लग जाते है। प्रायः फाइलेरिया मरीजों में बुखार, बदन में खुजली व सूजन की समस्या दिखाई देती है। इसके अलावा पैरों और हाथों में सूजन, हाथीपांव और  अंडकोषों की सूजन, फाइलेरिया के लक्षण हैं। फाइलेरिया हो जाने के बाद धीरे-धीरे यह गंभीर रूप लेने लगता है। इससे बचाव के लिए विभाग द्वारा सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम संचालित किया जाता है।जिसमें डी ई सी एवं एल्बेंडाजोल की दवा खिलाई जाती है।
कार्यक्रम के दौरान मौके पर पीसीआई डीसी मनोज कुमार, डब्लू एचओ मॉनिटर रमेश कुमार, पिरामल बीसी पप्पू कुमार, सिफार डीसी सिद्धांत कुमार, मोतिझील फुटपाथ व्यवसायी संघ के सचिव नन्दलाल जी, कोषाध्यक्ष राजाबाबू जाय सवाल, राजन सहित कई लोग मौजूद थें।
19
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *