राष्ट्र सेवा मिशन ने किया महाराणा प्रताप स्मृति उत्सव समारोह

3 Min Read
अशोक वर्मा
मोतिहारी : नगर के मठिया निवासी राष्ट्र सेवा मिशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष लालबाबू सिंह ने दिल्ली में राष्ट्रीय सेवा मिशन द्वारा आयोजित  महाराणा प्रताप स्मृति उत्सव समारोह में भाग लेकर वापस लौटने के बाद बताया कि उक्त कार्यक्रम में मिशन से जुड़े सभी लोगों में गजब का उत्साह था । महाराणा प्रताप स्मृति उत्सव  कार्यक्रम में राष्ट्रीय अध्यक्ष जितेंद्र नीरज भाग लिए और  दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया ।अपने संबोधन में राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि मुगल साम्राज्य जो उस दौर का विश्व का एक अति मजबूत साम्राज्य था, उसे धूल चटाने में महाराणा प्रताप ने अहम भूमिका निभाई थी, हल्दीघाटी का युद्ध उन्होंने जीता था। आज वर्तमान समय मे दुनिया की जो स्थिति है उसे  देखते हुए हमें महाराणा प्रताप के नक्शे कदम पर चलने की आवश्यकता है। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष लाल बाबू सिंह ने कहा कि राजपूत महाराणा प्रताप भारत के वैसे शासक हुए जिन्होंने भीलों को एकजुट किया और अपने सैनिकों को इतना मजबूत किया कि वे मुगल साम्राज्य पर भारी पड़े। श्री सिंह ने कहा कि महाराणा प्रताप ने पूरे विश्व को यह दिखाया कि एक राजपूत अपने देश और सम्राज्य को प्राण से भी ज्यादा मानता है। राजपूत वसूलो से कभी भी समझौता नहीं कर सकता है।
महाराणा प्राताप ने युद्ध नीति में  इतनी दूरदर्शिता रखी कि मुगलों के लिए तमाम रसद पानी को रोक दिया ताकि मजबूरन मुगल या तो रण क्षेत्र छोड़कर भाग जाए या फिर वे अपने को समर्पित कर दें। आज हमारे प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदीजी  पूरे विश्व को इस कदर भारत के पक्ष में कर लिया है की पूरी दुनिया आज भारत को एक शक्तिशाली राष्ट्र मान रही है। निश्चित रूप से महाराणा प्रताप ने जिस वीरता, साहस और देशभक्ति का उदाहरण पेश किया देश  उसका अनुसरण कर रहा है और दिनोदिन  सशक्त हो रहा है।
कार्यक्रम में कई वक्ताओं ने भी अपने विचार व्यक्त किये जिसमें रवि सिंह सुदर्शन एवं चांदनी दुबे आदि थे।उनके अलावा अन्य कई वक्ता थे।कार्यक्रम काफी प्रभावशाली था , लोगों में गजब का उत्साह था।
12
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *