कांग्रेस में मंत्री पद को लेकर खींच तान लॉबिंग जोरो पर

3 Min Read
  • कई विधायक मंत्री बनने के लिए लगा रहे हैं दिल्ली तक की दौड़
रांची:चंपई सोरेन मंत्रिमंडल का 16 फरवरी विस्तार होना है 16 फरवरी को नए मंत्रियों को शपथ दिलाई जाएगी ।कौन मंत्री होगा  इसको लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है अटकलें लग रही है कयास लग रहे हैं कि कौन मंत्री बनेगा ।हेमंत सोरेन सरकार में  सीएम सहित  कुल 11 मंत्री थे ।हेमंत सोरेन फिलहाल ईडी के कस्टडी में है उनकी सरकार में मंत्री रहे चंपई सोरेन मुख्यमंत्री बन चुके हैं तो इस तरह जेएमएम के कोटे से चंपई सोरेन का मंत्री पद खाली हो गया है।   चंपई सोरेन को मिलाकर जेएमएम के पांच मंत्री हेमंत सोरेन सरकार में थे इनमें चंपई सोरेन जोबा मांझी मिथिलेश कुमार ठाकुर हाफिज उल हसन और बेबी देवी शामिल थे । राजद कोटे से एकमात्र सत्यानंद भोक्ता मंत्री थे जो चंपई सोरेन सरकार में भी है।  कांग्रेस के कोटे से कुल चार मंत्री थे आलमगीर आलम रामेश्वर उरांव बन्ना गुप्ता और बादल पत्रलेख। आलमगीर आलम भी चंपई सोरेन के साथ नई सरकार में शपथ ले चुके हैं l आलमगीर आलम के डिप्टी सीएम बनने की संभावना भी है।
 तो कांग्रेस कोटे से मंत्रियों के तीन पदों की वैकेंसी है। अगर कांग्रेस 12वीं मंत्री पद के लिए दबाव बनाती है  तो उसे एक और  मंत्री पद सीट मिल सकती है ।
 लेकिन फिलहाल जेएमएम से चार और कांग्रेस से तीन यानी सात मंत्रियों की नियुक्ति की जानी है ।और इसको लेकर भारी लॉगिंग चल रही है ।जेएमएम में भी चल रही है और कांग्रेस में भी चल रही है। लेकिन कांग्रेस में कुछ ज्यादा ही खींच तान लॉबिंग चल रही है। 4 साल तक मंत्री रहे रामेश्वर उरांव बन्ना गुप्ता और बादल पत्रलेख क्या रिपीट करेंगे या उनकी जगह नए मंत्री आएंगे इसको लेकर खूब अंदाजे लगाए जा रहे हैं। कांग्रेस के झारखंड प्रभारी गुलाम अहमद मीर विधायकों और पार्टी नेताओं से विचार विमर्श करने के बाद  नामों की लिस्ट लेकर दिल्ली चले गए हैं ।जहां वे पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल के साथ चर्चा के बाद नामों की घोषणा करेंगे कि कौन नए मंत्री शपथ लेंगे ।
15
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *