राष्ट्रीय बालिका दिवस पोक्सो अधिनियम, 2012 पर कार्यशाला का आयोजन  शुभारंभ जिलाधिकारी द्वारा किया गया

3 Min Read
गया ।राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में जिला समाहरणालय सभागार में पोक्सो अधिनियम, 2012 पर कार्यशाला का आयोजन किया गया है।इस  कार्यशाला का शुभारंभ जिला पदाधिकारी डा० त्यागराजन एस०एम० द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया है। इस कार्यक्रम में नोडल पदाधिकारी के रूप में जिला प्रोग्राम पदाधिकारी, आई०सी०डी०एस० के द्वारा लैंगिक अपराधों से संबंधित बालकों का संरक्षण अधिनियम पोक्सो, 2012 के बारे मे विस्तार से जानकारी उपलब्ध करायी गई है।इस  कार्यशाला में बाल यौन शोषण से जुड़े मिथक, संकेत और एक्ट-2012 के प्रावधानों के बारे मे विशेष रूप से चर्चा की गई है। इस अधिनियम की मुख्य विशेषताओं के बारे में बताया गया जिसमें स्पर्श आधारित अपराध एवं दंड के बारे में भी जानकारी दी गई है। इस कार्यक्रम में उपस्थित विभिन्न विभागों के पदाधिकारियों द्वारा अपने विभाग से संबंधित योजनाओं के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी प्रदान की गई है।
जिला पदाधिकारी द्वारा अपने संबोधन में जिला के सभी संबंधित विभाग श्रम अधीक्षक, बाल संरक्षण ईकाई, शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास निगम, समेकित बाल विकास सेवाएँ एवं पुलिस विभाग को आपसी समन्वय बनाते हुए कार्य करने एवं इस कानून की आवश्यक जानकारी और जागरूकता प्रसारित करने हेतु निदेशित किया गया है। इसके साथ ही अनुमण्डल पदाधिकारी शेरघाटी द्वारा शिक्षक-अभिभावक संवाद के दौरान इस विषय पर चर्चा करने एवं जागरूकता फैलाने पर बल देने हेतु अपने संबोधन में बताया गया है।राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर सामाजिक कुरीतियों के विरूद्ध महिला सशक्तिकरण के बारे में भी कार्यशाला में चर्चा की गई जिसमें बालक,बालिका के अधिकार, सहभागिता का अधिकार, संरक्षण का अधिकार, विकास का अधिकार एवं उनके सुरक्षा के लिए विशेष प्रावधानों के बारे में अवगत कराया गया है। बालिकाओं के विकास, शिक्षा एवं सुरक्षा से जुड़े सरकार की विशेष योजनाएँ जैसे बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना, मुख्यमंत्री साईकिल योजना, मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना, सुकन्या समृद्धि योजना इत्यादि के बारे में उपस्थित लोगों को जागरूक किया गया साथ ही कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालय के तहत दिये जाने वाले लाभों के बारे में जानकारी दी गई। ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ योजना के बारे में भी लोगों को जागरूक किया गया है।
इस कार्यक्रम में सहायक निदेशक, बाल संरक्षण इकाई, पुलिस उपाधीक्षक सलमा खातुन, मिर्जा गालिब कॉलेज गया के प्राचार्य, जिला संचारी रोग पदाधिकारी गया, सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, शहर के उच्च विद्यालयों के प्राचार्य, डी०पी०एम० महिला एवं बाल विकास निगम, डी०पी०एम० जीविका, केन्द्र प्रशासक, वन स्टॉप सेन्टर, जिला समन्यवक एन०एन०एम०, जिला समन्यवक एक्शन ऐड एवं अन्य उपस्थित थे।
16
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *