अपने ही घर के कमरे में घुटकर मर गए 6 लोग, 6 लोगों की रात तो हुई लेकिन सुबह नहीं

2 Min Read

पूरे उत्तर भारत में इन दिनों कड़ाके की सर्दी पड़ रही है. लोग ठंड से बचने के लिए घरों में अंगीठी या हीटर जलाकर सोते हैं, लेकिन घर में अंगीठी जलाकर सोना बहुत घातक हो सकता है. दिल्ली में अंगीठी ने 6 लोगों की जान ले ली. दो अलग-अलग घटनाओं में दम घुटने से 6 लोगों की मौत हो गई.

दिल्ली के दो अलग-अलग इलाकों में कमरे में अंगीठी जलाने से 6 लोगों की मौत हो गई. इसमें अलीपुर में एक ही परिवार के 4 लोग शामिल हैं, वहीं इंद्रपुरी में दो लोगों की जान चली गई. ये लोग ठंड से बचने के लिए कमरे में अंगीठी जलाकर सो गए थे, जिसके बाद कमरे में धुआं फैल गया. धुएं के कारण दम घुटने से इन लोगों की मौत हो गई. कमरे में अंगीठी जलाकर सोने से मौत होने की इस तरह की घटनाएं पहले भी कई बार हो चुकी हैं. जानकारों का कहना है कि रूम में कभी भी अंगीठी या कोयला जलाने के बादकमरा बंद नहीं करना चाहिए.

– अंगीठी में इस्तेमाल कोयला कार्बन मोनोऑक्साइड बनाता है.

– कार्बन मोनोऑक्साइड इंसानी शरीर के लिए हानिकारक है.

– कार्बन मोनोऑक्साइड से शरीर में ऑक्सीजन कम हो जाती है.

– कार्बन मोनोऑक्साइड सांस के जरिए फेफड़ों तक पहुंचती है.

– फेफड़ों तक पहुंचने के बाद कार्बन मोनोऑक्साइड खून के संपर्क में आती है.

– हीमोग्लोबिन का लेवल घट जाता है, जिससे इंसान के मौत की संभावना बढ़ जाती है.

क्या करें?

अगर आप घर में अंगीठी जलाकर सोते हैं तो इन बातों को ध्यान रखना जरूरी है. थोड़ी सावधानी बरतकर आप खुद को और अपने परिवार को किसी बड़ी अनहोनी से बचा सकते हैं.

– अंगीठी जलाते हैं तो कमरे को पूरी तरह से बंद न करें.

– कमरे की खिड़की को हमेशा खुला रखें.

– अंगीठी जलाकर उसके आसपास ना सोएं.

– कमरे में एक बाल्टी पानी भरकर रखें.

– अंगीठी के आसपास कोई सामान न रखें.

11
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *