भीख नहीं भागीदारी चाहिए सत्ता में हिस्सेदारी चाहिए: कानू समाज

2 Min Read

रिपोर्ट : मो.इमरान

मोतिहारी। आगामी 7 जनवरी को होने वाले कानू एकता सह सम्मान समारोह की तैयारी पूरी हो चुकी है।समारोह में पूर्वी चंपारण के 27 प्रखंडों के 396 पंचायत एवं नव निकायों के स्वजातियों के साथ बिहार के 38 जिलों की प्रमुख संघ की भागीदारी होगी । बिहार के बाहर राज्यों से भी भागीदारी होगी। दिल्ली, लखनऊ, रांची,कोलकाता के साथ-साथ विदेश नेपाल और भूटान से भी भारी संख्या में जातियों का आगमन हो रही है। वही समारोह की तैयारी की विशेष  समीक्षा किया गया है, जिले से 30000 की संख्या में लोगों की उपस्थिति होगी। इसके लिए प्रशासन की अनुमति ले जा चुकी है , साथ में अपने कार्यकर्ता भी जगह-जगह व्यवस्था में लगाए जाएंगे पूरा शहर में होल्डिंग लगाया गया है ,जगह-जगह स्वागत गेट लगाए गए हैं ।जहां फूलों की वर्षा से अतिथियों का स्वागत कर शहर में प्रवेश कराया जाएगा। वही स्वागत में आए बस, ट्रैक्टर सहित अन्य बड़े वाहनों को बाहर ही खड़े करने का निर्देश दिया गया है, तथा चार पहिए वाहन कार्यक्रम स्थल बापू सभागार के आसपास रहेगी, और बाइक रखने की व्यवस्था निशुल्क कचहरी रोड स्थित स्टैंड में की गई है। वही इस दौरान तोरण द्वार बनाया जाएगा जहां स्वागत कर सभी अतिथियों को प्रसाल में भेजा जाएगा, अंदर पांच रजिस्ट्रेशन काउंटर होगा जहां पर सभी अपने नाम, नंबर, स्थान दर्ज कर अंदर जाएंगे। इस विराट कानू एकता सह सम्मान समारोह में सूची के अनुसार सभी गणमान्य लोगों को सम्मानित किया जाएगा ।वही कार्यक्रम के अंत मे भोजन कराने की व्यवस्था की गई है। मौके पर शंभू प्रसाद,भरत प्रसाद, मंजू देवी, छायाकार राजेंद्र प्रसाद, ओमप्रकाश गुप्ता, मुनचुन साह, रामाशीष गुप्ता, मोख्तार प्रसाद, सुभाष प्रसाद, अवधेश प्रसाद, प्रेम शंकर प्रसाद, मुन्ना प्रसाद, अनिल प्रसाद गुप्ता, कृष्ण जी, विनय गुप्ता, ओमप्रकाश गुप्ता, रामविनय गुप्ता, अजय गुप्ता आदि गणमान्य लोग उपस्थित थे। उक्त आशय की जानकारी संयोजक रमेश कुमार गुप्ता उर्फ भोला जी ने दी।

18
Share This Article
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *